Sunday, May 19, 2024
Sunday, May 19, 2024
Homeदेश विदेशपैसे ले जाने के लिए बुलाना पड़ा कंटेनर

पैसे ले जाने के लिए बुलाना पड़ा कंटेनर

Published on


*पीयूष जैन के पास अब तक मिले ₹177.45 करोड़, नोट ले जाने के लिए बुलाना पड़ा कंटेनर*

कानपुर/कन्नौजः कानपुर के इत्र व्यापारी पीयूष जैन के ठिकानों पर मिली रकम की खूब चर्चा हो रही है. डीजीजीआई की टीम को छापे के दौरान नोटों के इतने बंडल मिले, जिस गिनने के लिए 14 मशीनों का सहारा लेना पड़ा. 36 घंटे तक चली छापेमारी में करीब 27 अफसर दिन-रात लगे रहे. बताया जाता है कि बरामद रकम को बैंक तक पहुंचाने के लिए 40 से अधिक पेटियों का इस्तेमाल करना पड़ा.





नोट करंसी Times of Madhya pradesh






शनिवार को बरामद रकम की 17 पेटी, रुपये गिनने की 14 मशीनें और एक लॉकर को कंटेनर से स्टेट बैंक ऑफ इंडिया मेन ब्रांच चेस्ट में भेजा गया. इससे पहले नोटों से भरीं 25 पेटियां व्यापारी के घर से बैंक भेजी गईं थीं. डीजीजीआई टीम ने रात इत्र कारोबारी पीयूष जैन के बेटे प्रत्युष जैन को गिरफ्तार कर लिया है.

पीयूष जैन के कन्नौज स्थित पैतृक आवास पर छापेमारी जारी है.

बता दें कि डीजीजीआई ने जीएसटी चोरी के शक में कन्नौज के इत्र व्यापारी पीयूष जैन के कानपुर, कन्नौज और मुम्बई स्थित घर और कारखाने पर छापेमारी की थी. इसके अलावा उनके कोल्ड स्टोर, पेट्रोल पंप समेत कई ठिकानों पर गुरुवार से छापेमारी जारी है. जीएसटी इंटेलिजेंस महानिदेशालय के मुताबिक, अब तक पीयूष जैन के कानपुर वाले घर से 177.45 करोड़ रुपये बरामद हो चुके हैं. जांच टीम ने पूछताछ के लिए शुक्रवार देर रात पीयूष जैन और उनके बेटे प्रत्युष जैन को गिरफ्तार कर लिया है।

बताया जा रहा है कि इत्र व्यापारी पीयूष जैन ने कई फर्जी फर्मों के नाम से बिल बनाकर करोड़ों रुपयों की जीएसटी चोरी की है. डीजीजीआई की टीम शुक्रवार को पीयूष के बेटे प्रत्युष जैन को लेकर कन्नौज के पैतृक आवास पर पहुंची थी. टीम ने व्यापारी के बेटे के सामने सील बंद मकान का ताला खोला था.

डीजीजीआई की टीम व्यापारी के बेटे के साथ अभी भी कारोबारी के ठिकानों की जांच पड़ताल कर रही है. सुरक्षा के लिए टीम ने लोकल पुलिस का भी सहारा लिया है. फिलहाल कारोबारी के घर के अंदर आने-जाने पर अभी भी प्रतिबंध लगा है. घर के बाहर भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया है.

गौरतलब है कि कन्नौज के छिपट्टी मोहल्ला निवासी पीयूष जैन और उनके भाई अम्बरीष जैन इत्र के बड़े कारोबारी हैं. पीयूष जैन ओडोकोम नाम से परफ्यूमरी कंपनी चलाते हैं. इत्र के अलावा वह पान मसाला में इस्तेमाल होने वाली खुशबू के कंपाउंड भी तैयार करते हैं. उनकी कंपनी ओडो फर्म कई पान मसाला कंपनियों को माल सप्लाई करती है. देश के कई राज्यों के अलावा विदेश में भी माल सप्लाई होता है. कानपुर और कन्नौज में घर के अलावा उनके पास इत्र की फैक्ट्री, कोल्ड स्टोर, पेट्रोल पंप भी है. पीयूष जैन का मुंबई में भी घर और शोरूम हैं. मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक पीयूष जैन के पास तकरीबन 40 कंपनियां हैं. इनमें 2 मिडिल ईस्ट में हैं. जैन के मुंबई के शोरूम से परफ्यूम देश और विदेश में बिकता है.


Latest articles

कार में दम घुटने से 3-साल की बच्ची की मौत:दो घंटे तक रही बंद

माता-पिता शादी समारोह में व्यस्त थे 10 दिन पहले मनाया था बर्थ-डे कोटा- कार में...

बस और ट्राले की भिड़ंत में चुनावी ड्यूटी से आ रहे हैं बस में सवार 7 कर्मचारी घायल 2 गंभीर

सुवासरा:- आज सुबह-सुबह सुवासरा मंदसौर रोड पर राठौर कॉलोनी के पास बस और ट्राले...

वन विभाग ने सागौन के 85 लट्ठे जप्त किये, आरा मशीनों की जांच भी की….

मन्दसौर। 9 मई 2024, गुरूवार को श्री संजय रायखेरे वनमण्डलाधिकारी सामान्य वनमण्डल मंदसौर के...

10 Best Places to visit in Pachmarhi

 "Discover the enchanting beauty of Pachmarhi with our curated list of the best places...

More like this

कार में दम घुटने से 3-साल की बच्ची की मौत:दो घंटे तक रही बंद

माता-पिता शादी समारोह में व्यस्त थे 10 दिन पहले मनाया था बर्थ-डे कोटा- कार में...

बस और ट्राले की भिड़ंत में चुनावी ड्यूटी से आ रहे हैं बस में सवार 7 कर्मचारी घायल 2 गंभीर

सुवासरा:- आज सुबह-सुबह सुवासरा मंदसौर रोड पर राठौर कॉलोनी के पास बस और ट्राले...

वन विभाग ने सागौन के 85 लट्ठे जप्त किये, आरा मशीनों की जांच भी की….

मन्दसौर। 9 मई 2024, गुरूवार को श्री संजय रायखेरे वनमण्डलाधिकारी सामान्य वनमण्डल मंदसौर के...